loanpandit

Poultry Farm Business Plan: मुर्गी का व्यवसाय कैसे करें? (2023)

Poultry Farm Business Plan

Check Your Eligibility​

    पोल्ट्री फार्मिंग एक ऐसी कृषि पद्धति है जहां पक्षियों को व्यावसायिक रूप से पाला जाता है, यह बिजनेस बाजार में बेचे जाने वाले अंडे और मांस के उत्पादन से संबंधित है। Poultry Farming में बत्तख, मुर्गियां और युवा कबूतर जैसे पक्षी शामिल हैं। मुर्गियों और उनके अंडों की बाजार में बहुत मांग है और भारी मांग के कारण ज्यादातर पोल्ट्री फार्म मालिक केवल मुर्गियां पालना पसंद करते हैं। इस बिजनेस का एक व्यापक बाजार है। अगर आप भी इस बिजनेस को करने की योजना बना रहे है तो हम इस लेख में Poultry Farm Business Plan के बारे में जानकारी दे रहे है जो आपके बहुत काम आ सकती है।

    Poultry Farm Business की जानकारी

    बाजार में मुर्गियों और उनके अंडो की खपत बहुत ज्यादा है। यह एक ऐसा बिजनेस है जो सदाबहार है इसे कम निवेश के साथ भी शुरू किया जा सकता है। फार्मिंग से जुड़े बिजनेस की वित्तीय मदद करने के लिए सरकार मुर्गी पालन और बकरी पालन के लिए कई नीतियों के तहत बिजनेस लोन उपलब्ध करवा रही है।

    भारत में इस सेक्टर की वैल्यू 80,000 करोड़ रुपये है और यह 8-10% वार्षिक वृद्धि के साथ सबसे तेजी से बढ़ने वाला कृषि क्षेत्र है। इस बिजनेस में ठीक से निवेश करने, उसकी योजना बनाने, प्रबंधन करने और अपने उत्पाद को बाजार में बेचने के लिए आपको एक अच्छे Poultry Farm Business Plan की आवश्यकता पड़ेगी। इस प्रक्रिया के बाद ही आप अपना poultry farm business शुरू कर पाएँगे।

    Poultry Farm Business Plan बनाने के लिए जरुरी स्टेप्स

    Important steps poultry farm business plan

    1. पोल्ट्री फ़ार्म सेक्टर का चुनाव

    अपने  Poultry Farm Business Plan में यह जानकारी शामिल करें की आपको किस प्रकार से अपना बिजनेस शुरू करना पड़ेगा। इस बिजनेस के सेक्टर्स निम्नलिखित है।

    • एग प्रोडक्शन
    • मीट प्रोडक्शन
    • चिकन हैचिंग
    • अंडे और मांस की पैकेजिंग और मार्केटिंग
    • उपकरण निर्माण
    • पोल्ट्री फीड प्रोडक्शन
    • अंडे और मीट की प्रोसेसिंग
    • किस प्रजाति का पक्षी रखें

    उपयुक्त सेक्टर्स का चुनाव करके अब आप चुने हुए पक्षियों को अपने Poultry Farm में पालना शुरू करेंगे। यदि आपने मुर्गी के मांस  और अंडे के उत्पादन का चुनाव किया है,तो आप बड़ी संख्या में मुर्गियाँ पालेंगे। मुर्गियों की कई सीमित प्रजाति है लेकिन  ब्रायलर, रोस्टर और लेयर मुर्गियां इस व्यापर के लिए सबसे अच्छी मानी जाती है। लेयर मुर्गियों का चुनाव करें।

    ब्रॉयलर प्रजाति भारत में मुर्गियों की सबसे आम प्रजाति है, उन्हें विकसित करने में लगभग 8 सप्ताह लगते हैं, लेयर मुर्गियाँ अंडे देने में कम से कम 18 सप्ताह लेती हैं और 72 सप्ताह तक दे सकती हैं। रोस्टर मुर्गी का एक  का एक अनूठा स्वाद है।


    2. Poultry Farm Business Plan में लोकेशन कैसे चुने

    location for poultry farm business plan

    पोल्ट्री फार्मिंग बिजनेस के लिए ऐसी लोकेशन का चुनाव करें जहां आपके प्रोडक्ट की सप्लाई और डिस्ट्रीब्युशन करने के लिए ट्रांसपोर्टेशन की कोई समस्या ना हो। इस बिजनेस से ऐसा स्थान ढूंढे जहां भविष्य में आप अपने व्यापार का विस्तार करने में भी सक्षम हो। इस स्थान पर आपकी मुर्गियों के लिए चारा रखने के लिए पर्याप्त जगह हो।

    जिस लोकेशन का चुनाव आप कर रहे है वहाँ पर बिजली, पानी और कचरे के निपटान की व्यवस्था हो। Poultry Farming Business में वातावरण बहुत अधिक मायने रखता है इसलिए अपने जानवरों को बिमारी से बचाने के लिए सही तापमान और वेंटिलेशन बिजनेस लोकेशन के लिए जरुरी है।

    3. लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन की जानकारी

    अपने Poultry Farm Business Plan में सभी जरुरी लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन की जानकारी शामिल करें किसी भी कानूनी प्रक्रिया से निपटने के लिए यह दस्तावेज बहुत जरुरी है नीचे कुछ जरुरी लाइसेंस की जानकारी दी गयी है।

    • ट्रेड लाइसेंस

    अपने एरिया जों के अनुसार नजदीकी नगर निगम और सम्बंधित अथॉरिटी से ट्रेड लाइसेंस जरुर बनवाये। ट्रेड लाइसेंस आपके बिजनेस बारे में यह सुनिश्चित करता है कि आपका बिजनेस स्थानीय सरकारी नियमों और दिशानिर्देशों का पालन कर रहा है।

    • बिजनेस रजिस्ट्रेशन

    अपने पोल्ट्री फार्मिंग बिजनेस को किसी एक बिजनेस स्वरूप में रजिस्टर कराना जरुरी होता है। आप किसी जानकार व्यक्ति की मदद लेकर अपने बिजनेस को प्रोपराइटरशिप, पार्टनरशिप, प्राइवेट लिमिटेड और एलएलपी जैसे स्वरूप के अंतर्गत रजिस्ट्रेशन करा सकते है। बिजनेस रजिस्ट्रेशन से अपने पोल्ट्री फार्म व्यवसाय के लिए सरकारी योजनाओं का लाभ ले सकते है।

    • उद्योग आधार

    आप अपने पोल्ट्रीफार्म बिजनेस को उद्योग आधार के अंतर्गत भी रजिस्टर कर सकते है। इसमें रजिस्टर बिजनेस को सरकार की कई योजनाओं, सब्सिडी और बिजनेस लोन की सुविधाएँ दी जाती है। आप भी इन योजनाओं का लाभ अपने बिजनेस के लिए ले सकते है।

    • पोल्ट्री लाइसेंस

    एनिमल हसबेंडरी और एग्रीकल्चर डिपार्टमेंट से आप अपने बिजनेस के लिए पोल्ट्री लाइसेंस प्राप्त करें। इस रजिस्ट्रेशन से आपके फ़ार्म की बायो सिक्यूरिटी, बीमारियों पर नियत्रण और सामाजिक सुरक्षा सुनिश्चित की जाती है।

    • पॉल्यूशन कंट्रोल की NOC

    पॉल्यूशन कंट्रोल डिपार्टमेंट से अपने पोल्ट्री फार्म के लिए NOC जरुर ले ये सुनिश्चित करता है कि आपके बिजनेस गतिविधियों में किसी भी प्रकार से प्रदुषण को नुक्सान नहीं पहुंचा रहा।

    • GST रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट

    अगर आपका बिजनेस GST की दायरे में आता है तो आपको यह रजिस्ट्रेशन जरुर करवाना चाहिए। इसके द्वारा आप अपने बिजनेस एक्स्पेंसेस पर टैक्स से सम्बंधित कार्यों को पूरा कर पाएंगे।

    • FSSAI लाइसेंस लें

    अगर आप अपने पोल्ट्री फार्म के जरिये इससे बने प्रोडक्ट्स का उत्पादन करते है और उसे मार्केट में भेजते है तो आपको फ़ूड सेफ्टी डिपार्टमेंट से FSSAI लाइसेंस भी बनवा लेना चाहिए।

    4. पोल्ट्री फार्म बिजनेस प्लान में निवेश के बारे में जानकारी दें

    इस बिजनेस की शुरुआत एक उचित पैसा लगा कर की जाती है आप कितना निवेश अपने बिजनेस में करना चाहते है यह इस बात पर निर्भर करेगा कि आपका Poultry Farm Business कितना बड़ा है। शुरूआती स्तर पर इस बिजनेस को शुरू करने के लिए 5 से 10 लाख रुपये लगाने की जरुरत पड़ती है। इस खर्च में निम्नलिखित व्यय शामिल होते है।

    • पक्षियों की कीमत
    • उपकरण की लागत
    • लीज/किराया शुल्क
    • पोल्ट्री फीड और अन्य आवश्यक कच्चा माल
    • वर्कफोर्स कॉस्ट – कर्मचारी, श्रमिक और अन्य श्रम
    • ट्रांसपोर्ट और मार्केटिंग जैसी अन्य लागतें

    अपने बिजनेस के लिए फंड जुटाना एक बड़ा ही चुनौतीपूर्ण काम होता है। अगर आपके बिजनेस की शुरुआत में आपको वित्तीय समस्या का सामना पड़ रहा है तो आप OneNDF से बिजनेस लोन लेकर अपनी परेशानी का समाधान कर सकते है। यह एक वित्तीय प्लेटफार्म है जो बहुत ही आकर्षक दरों पर आपके बिजनेस की हर प्रकार की जरुरत के अनुसार लोन उपलब्ध कराने में मदद कर सकता है।

    5. Poultry Farm Business का मार्केटिंग और प्रमोशन

    Marketing of poultry farm business plan

    अपने Poultry Farm Business Plan में आप मार्केटिंग और प्रमोशन के बारे में हर जरुरी जानकारियों को शामिल करें। अपने टारगेट कस्टमर तक अपने प्रोडक्ट को पहुंचाना हर बिजनेस की पहली जरुरत है। एक पोल्ट्री फार्म बिजनेस के लिए उसके टारगेट कस्टमर पहचानना थोडा मुश्किल हो सकता है।

    आमतौर पर रेस्तरां, खुदरा विक्रेता, दुकान विक्रेता, थोक बाजार आदि क्षेत्र इस बिजनेस के ग्राहक होते है। इस बिजनेस की मार्केटिंग तकनीक यही है कि आपको अपने पुराने ग्राहकों से अच्छे संपर्क बनाने चाहिए। उन कस्टमर को अच्छी गुणवत्ता वाले प्रोडक्ट दे ताकि आपके बिजनेस पर उनका विशवास बढ़ें।

    अगर आप पोल्ट्री बिजनेस से प्रोडक्ट बना रहे है तो उन प्रोडक्ट को आप सोशल मीडिया और अन्य ऑनलाइन माध्यम से प्रोमोट करने का प्रयास कर सकते है। इसके अलावा आप अखबारों में विज्ञापन देकर भी अपने व्यापर का प्रमोशन कर सकते है।

    Conclusion

    Poultry Farming एक हाई ग्रोथ वाला बिजनेस है। यह एक लम्बे समय तक चलने वाला बिजनेस है जो कि निवेश के लिए बहुत ही अच्छा है। अगर कोई नया उद्यमी इस बिजनेस को शुरू करना चाहता है तो इस बिजनेस में सफलता की बहुत संभावनाएं है। इस बिजनेस में सफल होने के लिए एक सटीक Poultry Farm Business Plan की जरुरत है जिसमे बिजनेस से जुड़े खर्चें, मार्किट प्लानिंग और जरुरी लाइसेंस के बारे में जानकारी होगी।

    इस व्यवसाय में देश की बढ़ती जनसख्या के लिए पोल्ट्री प्रोडक्ट्स की डिमांड पूरी करने की क्षमता है। भारत सरकार भी poultry sector को लगातार प्रोत्साहित कर रही है जिसमे ऐसे व्यवसायों को कई योजनाएं, सब्सिडी और टैक्स बेनिफिट जैसे फायदे मिल रहे है।

    Poultry Farm Business से जुड़े कुछ प्रश्न

    Q.1 पोल्ट्री फार्म में कितना मुनाफा होता है?

    पोल्ट्री फार्म के बिजनेस को शुरू करने के लिए आप बहुत कम लागत में इसकी शुरुआत कर सकते है और सरकार से लोन लेकर भी इसे शुरू कर सकते है. अगर आपके फ़ार्म में 2000 मुर्गियां है तो आप 70,000 रूपये से लेकर 135000 की कमी कर सकते है।

    Q.2 पोल्ट्री फार्म शेड खर्च कितना होता है?

    पोल्ट्री फार्म शेड का निर्माण आपके पास मौजूद मुर्गियों की संख्या पर निर्भर है। इस शेड के निर्माण में शुरुआती लागत 50 हजार तक आती है इसके बाद आप अपनी जरुरत के हिसाब से कितना भी पैसा इसके लिए खर्च कर सकते है। मुर्गियों को शेड के अन्दर पर्याप्त मात्रा में जगह होनी चाहिए और तापमान भी अनुकूल होना चाहिए।

    Q.3 What is poultry farm meaning in Hindi?

    हिंदी में पोल्ट्री फार्म का मतलब कुक्कुट पालन होता है। यह कृषि क्षेत्र से सम्बंधित ऐसा व्यापार है जिसमे बत्तख,मुर्गियां और कबूतर जैसे पक्षियों को व्यवसायिक उदेश्यों के लिए पला जाता है। पोल्ट्री फार्म बिजनेस में मुख्य रूप से मांस और अंडो की पूर्ती करने के लिए किया जाता है जिसकी मार्किट में बहुत डिमांड है।

    Q.4 पोल्ट्री फार्म के लिए कौन सी छत सबसे अच्छी है?

    पोल्ट्री फार्म के व्यवसाय में प्लास्टिक की छत सबसे ज्यादा अच्छी मानी जाती है।

    Q.5 मुर्गी पालन के लिए कौन सा राज्य प्रसिद्ध है?

    तमिलनाडु में सबसे आधिक संख्या में इस बिजनेस को किया जाता है येरज्य मुर्गी पालन के लिए प्रसिद्ध है। 2019 में लगभग 120.8 मिलियन पोल्ट्री उत्पाद अकेले तमिलनाडु राज्य से ही हुआ था। 

    Q.6 मुर्गी फार्म में क्या कमाई है?

    पोल्ट्री फार्म बिजनेस में मुर्गी के अंडो और उसके मांस के द्वारा कमाई की जाती है. अगर आपके फार्म में 5000 ब्रायलर मुर्गियां मौजूद है तो आप एक बर्ष में कम से कम से कम 15 लाख रूपये अंडे बेच कर कम सकते है इसके अगले साल आप मुर्गियों को मांस के लिए भी बेच सकते है जिससे 3 से 5 लाख के कमाई होगी। 

    Last Updated on 11 months

    Check Your Eligibility​

      Vishal Kumar

      Vishal is a content writer who writes articles on various topics and is currently working as a writer on loan, banking, and business related financial topics on LOANPANDIT website. Vishal works to explain financial concepts to the readers in a very simple way through his attractive and informative articles. Their goal is to empower people to make financial decisions.

      Latest News

      You cannot copy content of this page

      Take The First step Towards Your Goals: Apply for a Personal Loan

      ✅Minimum Documents    ✅No Collateral     ✅Instant Disbursal